पंजाब के पटियाला में मोदी ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर जमकर प्रहार किए

नई दिल्ली
पंजाब के पटियाला में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर जमकर प्रहार किए। इस दौरान पीएम मोदी ने भारत-पाकिस्तान के बीच 1971 में हुए युद्ध का जिक्र करते हुए कहा कि अगर उस समय मोदी होता तो मैं इनसे करतारपुर साहिब लेकर रहता, उसके बाद ही जवानों को छोड़ता। उन्होंने कहा कि यही कांग्रेस है, जिसने सत्ता के लिए देश का बंटवारा किया, और बंटवारा भी ऐसा किया कि हमें दूरबीन से करतारपुर साहिब के दर्शन करने पड़ते थे। हर कोई इसे अपना अपमान महसूस करता था। मैं कांग्रेस वालों को कहता हूं कि जब बांग्लादेश की लड़ाई हुई तो पाकिस्तान के 90 हजार से ज्यादा सैनिक सरेंडर कर चुके थे, 90 हजार से ज्यादा पाकिस्तानी सैनिक हमारे कब्जे में थे। हुकुम का पत्ता हमारे हाथ में था। अगर उस समय मोदी होता तो मैं इनसे करतारपुर साहिब लेकर रहता, उसके बाद ही जवानों को छोड़ता। वो तो नहीं कर पाए, लेकिन मुझसे जितनी सेवा हो सकी मैंने की। आज करतारपुर साहिब कॉरिडोर आपके सामने है।

पीएम मोदी ने कहा, "एक तरफ भाजपा और एनडीए है और दूसरी तरफ भ्रष्टाचारियों का इंडी गठबंधन है, इंडी गठबंधन जिसके पास न नेता है, ना नीयत है। एक तरफ मोदी है जो लड़ाकू विमान से लेकर एयरक्राफ्ट कैरियर तक भारत में बना रहा है, दूसरी तरफ इंडी गठबंधन है जो लिखित रूप में कहता है कि हमारे परमाणु हथियारों तक को समाप्त कर देना चाहिए। आज बुद्ध पूर्णिमा है, आज ही के दिन हमने परमाणु विस्फोट करके अपनी ताकत का परिचय करवाया था। एक तरफ आतंकवादियों को घर में घुसकर मारने का साहस, दूसरी तरफ इंडी वाले हैं जो आतंकवादियों के एनकाउंटर पर आंसू बहाते हैं। एक तरफ मोदी सरकार है, जिसने 10 साल में 25 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला है, वहीं दूसरी तरफ इंडी गठबंधन है जो कहता है कि आपकी कमाई, आपके खेत-खलिहान का आधा हिस्सा छीन लेंगे। इंडी गठबंधन समाज और देश को बांटना चाहता है। लेकिन, मोदी भारत को विकसित भारत बनाना चाहता है।"

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, "यहां पंजाब में दिखावे के लिए दिल्ली की कट्टर भ्रष्टाचारी पार्टी और सिख दंगे की दोषी पार्टी आमने-सामने लड़ने का नाटक कर रही है। लेकिन, सच्चाई यही है कि पंजा और झाड़ू पार्टियां दो हैं, लेकिन दुकान एक ही है। यहां के लोग कुछ भी बयान दें, लेकिन, दिल्ली में एक-दूसरे को कंधे पर उठाकर नाच रहे हैं। इसलिए मैं पंजाब के लोगों से प्रार्थना करता हूं कि इनसे सावधान रहना है। जिसे वो अपना गुरु मानते थे, उस अन्ना हजारे के साथ भी धोखा किया है। वो दिन में 10 बार झूठ बोल सकते हैं। ऐसे लोग न पंजाब का भला कर सकते हैं और ना आपके बच्चों के भविष्य के लिए कुछ कर सकते हैं।"

उन्होंने कहा कि इंडी गठबंधन को ना विकास की परवाह है और ना ही हमारी विरासत की चिंता है। आजादी के बाद दूसरे दिन ही अयोध्या में राम मंदिर बन जाना चाहिए था। लेकिन, कांग्रेस ने राम मंदिर का निर्माण रोका। अब जब मंदिर बन गया तो मंदिर को गालियां दे रहे हैं। दुनियाभर से श्रद्धालु अयोध्या पहुंच रहे हैं और उनका स्वागत महर्षि वाल्मीकि के नाम पर बना हवाई अड्डा करता है। लेकिन, इन्हें हर उस बात से नफरत है, जिससे हमारी आस्था का सम्मान होता है। इंडी गठबंधन वाले घोर सांप्रदायिक हैं। ये घोर जातिवादी हैं, ये घोर परिवारवादी हैं। ये सत्ता के लिए किसी को भी धोखा दे सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button