‘परमाणु हथियारों का इस्तेमाल पूरी तरह अस्वीकार्य’- पीएम मोदी

हिरोशिमा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा के पहले चरण में जापान पहुंचे हैं. जापान के हिरोशिमा पहुंचे पीएम मोदी ने जापान के समाचार पत्र द योमिउरी शिम्बुन को दिए इंटरव्यू में जी-7 और जी-20 की भूमिका की चर्चा की. प्रधानमंत्री मोदी ने साथ ही परमाणु हथियारों के उपयोग और रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर भी खुलकर अपनी राय रखी है.

पीएम मोदी ने कहा है कि वैश्विक चुनौतियों से निपटने में जी-7 और जी-20 देशों में सहयोग की भूमिका महत्वपूर्ण है. उन्होंने आगे कहा कि जियोपॉलिटिकल टेंशन की वजह से खाद्य और ऊर्जा आपूर्ति चेन प्रभावित हुई है. पीएम मोदी ने रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध को लेकर कहा कि हम इंटरनेशनल ऑर्डर पर आधारित राष्ट्रीय संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के सम्मान का मजबूती से समर्थन करते हैं.

उन्होंने ये भी साफ किया कि हम परमाणु हथियारों का उपयोग स्वीकार नहीं करेंगे. पीएम मोदी ने कहा कि सामूहिक विनाश के हथियारों का इस्तेमाल पूरी तरह से अस्वीकार्य है. उन्होंने ये भी संकेत दिए कि वे जापान के प्रधानमंत्री किशिदा की मुहिम 'वर्ल्ड विदाउट न्यूक्लियर वीपंस' के लिए सभी देशों के साथ मिलकर काम करने को तैयार हैं.

इससे पहले जापान पहुंचे पीएम मोदी ने फुमिओ किशिदा से भी मुलाकात की. हिरोशिमा में पीएम मोदी और किशिदा ने भारत और जापान के द्विपक्षीय संबंधों के साथ ही व्यापार, अर्थव्यवस्था और संस्कृति के क्षेत्र में संबंधों पर भी चर्चा की. पीएम मोदी ने किशिदा को जी-7 की सफल अध्यक्षता के लिए बधाई दी और इसकी बैठक में आमंत्रित करने के लिए भी धन्यवाद दिया.

पीएम मोदी ने किशिदा के भारत दौरे को यादगार बताते हुए बोधि वृक्ष भेंट देने का भी जिक्र किया और कहा कि इसे आपने हिरोशिमा में लगाया. मेरा विश्वास है कि भारत और जापान के रिश्ते भी उसी तरह आगे बढ़ेंगे, जिस तरह ये वृक्ष बढ़ेगा. गौरतलब है कि पीएम मोदी जी-7 की अध्यक्षता कर रहे जापान के प्रधानमंत्री फुमिओ किशिदा के निमंत्रण पर हिरोशिमा पहुंचे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिरोशिमा में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण भी किया. पीएम मोदी के यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की समेत दुनिया के कई नेताओं के साथ मुलाकात करने का भी कार्यक्रम है. पीएम मोदी आज क्वाड देशों की बैठक में भी शामिल होंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button