दिल्ली, हिमाचल सहित इन राज्यों में होगी झमाझम बारिश, कैसा रहेगा आपके राज्य का हाल?

नई दिल्ली
देशभर के अधिकांश हिस्सों में हल्की से भारी बारिश हो रही है। बिहार, गुजरात और असम के कई इलाकों में तो बारिश से बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। इस बीच राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को मौसम सुहाना रहा। दरअसल, शुक्रवार की देर रात दिल्ली-एनसीआर में झमाझम बारिश हुई। साथ ही शनिवार और रविवार को तेज वर्षा होने की संभावना है। वहीं, केरल और कर्नाटक में आफत वाली वर्षा हो रही है। कुछ हिस्सों में बारिश की तीव्रता कम हुई तो कई इलाकों में तेज है।

कैसा है दिल्ली का हाल?
मौसम विभाग के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार और रविवार को तेज वर्षा हो सकती है, जिसकी वजह से तापमान में गिरावट आएगी। कुछ इलाकों में भारी वर्षा भी होने की संभावना है। बरसात के साथ तेज हवा चलने का भी अनुमान है, जिसकी गति 25 से 35 किलोमीटर प्रतिघंटा तक रह सकती है। मौसम विभाग ने दोनों ही दिनों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी कि भारी बारिश की वजह से शहर के निचले इलाके जलमग्न हो सकते हैं और सड़कों पर यातायात प्रभावित हो सकता है।

केरल में बारिश की तीव्रता हुई कम
केरल के कई हिस्सों में शुक्रवार को बारिश की तीव्रता कम होने के बावजूद सामान्य जनजीवन बाधित रहा और राज्य में हजारों लोग विस्थापित हो गए हैं। हालांकि, मौसम विभाग ने फिलहाल 'रेड अलर्ट' वापस ले लिया है, लेकिन राज्य के पांच उत्तरी जिलों के लिए 'येलो अलर्ट' को बरकरार रखा है।

उत्तर प्रदेश में अबतक रिकॉर्ड बारिश
इस वर्ष मानसून में अलग-अलग रंग दिखाए हैं। जून भर हल्की बारिश से ही गर्मी से राहत मिली, लेकिन जुलाई के पहले हफ्ते में हुई झमाझम बारिश से मानसून के नए रिकार्ड बने। राजधानी में इस वर्ष बीते 50 वर्षों की औसत वर्षा से 35% अधिक बारिश दर्ज की गई है। देशभर में अब तक छह फीसद अधिक बारिश रिकार्ड हुई है। मौसम विभाग में एक जून से ही मानसूनी माह माना जाता है।

प्रदेश भर में बारिश को लेकर जारी आंकड़े के अनुसार, मानसूनी सीजन के शुरुआती चार हफ्तों की अपेक्षा जुलाई के पहले सप्ताह में प्रदेश भर में बेहतर बारिश हुई है। एक जून से 28 जून के बीच प्रदेश भर में हुई बारिश की अपेक्षा 29 जून से पांच जुलाई यानी पांचवें हफ्ते में राजधानी समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुल वर्षा की तीन गुणा अधिक बारिश दर्ज की गई। वहीं, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट है।
 

    राजस्थान के पूर्वी भाग के अधिकांश हिस्सों और पश्चिमी भाग के बीकानेर और जोधपुर संभाग में एक-दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
    उत्तराखंड में शुक्रवार से रविवार तक भारी बारिश की संभावना।
    जम्मू-कश्मीर में शनिवार और रविवार को बारिश हो सकती है।
    हिमाचल का हाल भी जम्मू-कश्मीर जैसा रहने वाला है। 8 और 9 जुलाई को बारिश की संभावना है।

शिमला के मौसम विज्ञान सेंटर के अनुसार, आने वाले चार दिनों में भारी बारिश देखने को मिलेगी। इसकी वजह से येलो अलर्ट भी जारी किया गया है। आज से तीन दिन बाद यानी 10 जुलाई को भारी बारिश होने की चेतावनी दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button