अतीक और अशरफ के हत्यारे लवलेश के ‎पिता ने कहा- हमारा उससे कोई संबंध नहीं

लवलेश पहले भी एक मामले में जा चुका है जेल

बांदा (एजेंसी)। माफिया डॉन अतीक अहमद और अशरफ के हत्याकांड के बाद से प्रयागराज से लेकर पूरे उत्तर प्रदेश का माहौल गरमा गया है। इस हत्याकांड ने एक तरफ योगी सरकार में कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं। माफिया डॉन अतीक और उसके भाई खालिद अजीम उर्फ अशरफ की हत्या करने वालों में बांदा के लवलेश तिवारी, हमीरपुर के अरुण मौर्य और कासगंज के सनी का नाम सामने आया है। लवलेश तिवारी के पिता यज्ञ तिवारी तक मीडिया की टीम पहुंची तो उन्होंने अपने बेटे से किसी प्रकार का संबंध न होने की बात कही। उन्होंने बेटे को लेकर कई गंभीर बातें कही हैं। लवलेश के पिता ने कहा कि हमारा उससे कोई लेना-देना नहीं है। लवलेश कभी-कभार घर आता था। पांच-छह दिन पहले घर आया था। उससे हम लोगों की अधिक बात नहीं होती थी। पिता ने कहा कि वह एक नशेड़ी था। कोई काम नहीं करता है। लवलेश चार भाइयों में तीसरे नंबर पर है। लवलेश के अतीक हत्याकांड में शामिल होने की जानकारी पिता को टीवी के जरिए मिली।
लवलेश के पिता ने कहा कि घटना ने उन्हें परेशान कर दिया है। हमें तो उसके बारे में पता ही नहीं था। टीवी पर खबर चली तो पता चला कि उसने इस घटना को अंजाम दे दिया है। उसने इंटर तक की पढ़ाई पास की है। लवलेश पहले भी एक मामले में जेल जा चुका है। करीब डेढ़ साल तक जेल में वह रहा था। अतीक के हत्यारों से लगातार पुलिस लाइन में पूछताछ चल रही है। पूछताछ के दौरान तीनों ही हमलावरों के बयानों में विरोधाभास की भी खबरें सामने आ रही हैं। पुलिस के आलाधिकारियों ने भी तीनों से पूछताछ की है। हत्या के मोटिव के बारे में जानकारी जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। शूटरों का कहना है कि बड़ा माफिया बनने के लिए उसने अतीक और अशरफ को मारने का फैसला लिया। हालांकि, इस मामले को लेकर पुलिस की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button