अयोध्या में शिवभक्तों का उमड़ने लगा रेला, सावन झूला मेला की ऐसी तैयारी

अयोध्या

अयोध्या में सावन झूला मेला तिथियों के लिहाज से 19 अगस्त से शुरू होगा लेकिन सावन महीने में शिवभक्तों का रेला पहले ही उमड़ना शुरू हो गया  है। वैष्णव नगरी में शिवभक्तों के स्वागत के लिए सरयू नदी के घाटों को स्वच्छ एवं सुंदर बनाए रखने की तैयारी नगर निगम प्रशासन ने शुरू कर दी है। इसी सिलसिले में बुधवार को अपर आयुक्त अरुण कुमार गुप्ता ने निगम के अधिकारियों के अमले के साथ सरयू नदी के तटीय क्षेत्र का भ्रमण कर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान गंदगी दूर करें के लिए बायो टायलेट बनवाने का निर्देश दिया।

इस दौरान उन्होंने चौधरी चरण सिंह घाट पर गंदगी देखकर नाराजगी जताई और सफाई व्यवस्था के सुपरवाइजर को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया। निरीक्षण के दौरान पेयजल की समस्या की शिकायत मिलने पर उन्होंने सहायक अभियंता जल गिरजेश तिवारी को निर्देशित किया तो उन्होंने कहा कि श्मशानघाट व स्नान घाटों पर हैंडपंप नहीं लगाया जा सकता क्योंकि यहां हैंडपंप से गंदा पानी आएगा जिससे दूसरी समस्याएं खड़ी होंगी। फिलहाल घाटों से हटकर हैंडपंप लगाने पर सहमति के बाद प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया गया।

नालियों पर कब्जे से भी ख़फ़ा हुए अपर आयुक्त: अपर आयुक्त ने संत तुलसीदास से निरीक्षण अभियान की शुरुआत की। यहां उन्हें नालियों पर दुकानदारों का अतिक्रमण दिखाई दिया तो उन्होंने जानना चाहा कि यहां नालियों की सफाई कैसे हो रही है। इसका उचित जबाव नहीं मिलने से अपर आयुक्त ने नाराजगी जताई और प्रवर्तन दल को अतिक्रमण हटवाने का निर्देश दिया। इसके साथ मुख्य स्वास्थ्य एवं खाद्य निरीक्षक कमल कुमार को नालियों की तली झाड़ सफाई का निर्देश दिया।

इसके साथ ही घाटों की रामघाट हाल्ट स्टेशन तक नियमित सफाई कराने का निर्देश दिया। उन्होंने आवश्यकता नुसार सफाई कर्मियों की संख्या भी बढ़ाने की छूट दी। निरीक्षण में सहायक अभियंता जल जयकुमार व एई निर्माण राजपति यादव, स्वास्थ्य निरीक्षक बिजेंद्र व मानव संपदा सलाहकार एजेंसी के पदाधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button