Rafale Fighter विदेशी युद्धाभ्यास में होगा शामिल, महिला पायलट संभालेंगी कमान

नईदिल्ली

इस समय फ्रांस में इंटरनेशनल मिलिट्री एक्सरसाइज चल रही है, जिसमें भारतीय वायुसेना का फाइटर विमान राफेल भी पार्टिसिपेट करेगा। ओरियन नाम यह युद्धाभ्यास पहला विदेशी एक्सरसाइज होगा, जिसमें भारतीय वायुसेना का लड़ाकू विमाम हिस्सा लेगा। राफेल की क्षमता को प्रदर्शित करने के लिए यह उचित मंच है। इस युद्धाभ्यास में भारतीय वायुसेना की महिला पायलट भी हिस्सा लेने वाली हैं। इससे पहले अवनि चतुर्वेदी जापान के मिलिट्री एक्सरसाइज का हिस्सा रह चुकी हैं।

राफेल जेट का पहला विदेशी युद्धाभ्यास

रिपोर्ट्स की मानें तो राफेल लड़ाकू विमान के पहले युद्धाभ्यास की टीम में एक मात्र महिला पायलट शिवांगी सिंह भी शामिल रहेंगी। भारतीय वायुसेना किसी युद्धाभ्यास में पहली बार महिला पायलट को बीते जनवरी में शामिल किया था। तब स्क्वाड्रन लीडर अवनि चतुर्वेदी ने जापान में हुए एक्सरसाइज में हिस्सा लिया था। इस बार शिवांगी सिंह को राफेल जेट्स के साथ फ्रांस भेजा जा रहा है। शिवांगी सिंह ने साल 2017 में भारतीय वायुसेना ज्वाइन किया था। वे भारतीय वायुसेना में महिला पायलटों के दूसरे बैच में कमीशन हुई थी। शिवांगी सिंह एक्सपर्ट पायलट हैं और वायुसेना उन पर विश्वास व्यक्त किया है। यह एक्सरसाइज दोनों देशों के आपसी संबंधों को मजबूत करने वाला है।

क्या है फ्रांस का ओरियन एक्सरसाइज

भारत और फ्रांस के बीच 17 अप्रैल से फ्रांस के मोंटे डी मारसन में युद्धाभ्यास शुरू हुआ है। यह फ्रांस का एक एयरफोर्स बेस है। फ्रांस के एंबेसडर एमानुएल लेनैन ने ट्वीट किया कि फ्रांस भारतीय वायुसेना और एमसीसी कंटीजेंट के संयुक्त युद्धाभ्यास का स्वागत करता है। राफेल जेट्स भी बहुत जल्द फ्रांस के आकाश में गरजने वाला है। यह एक्सरसाइज 17 अप्रैल से शुरू है और 5 मई 2023 तक चलेगा। इस दौरान कुल 4 राफेल जेट्स इसमें शामिल होंगे। इसके अलावा दो सी-17, दो II-87 एयरक्राफ्ट और 165 एयर वॉरियर्स इसमें शामिल होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button