राष्ट्रपति एर्दोआन ने कहा- यूक्रेन नाटो की सदस्यता का हकदार है, इसमें कोई शक ही नहीं

इस्तांबुल
 तुर्किये के राष्ट्रपति रजब तैय्यब एर्दोआन ने यूक्रेन के नाटो में शामिल होने का शनिवार को समर्थन जताया है। उन्होंने कहा कि युद्धग्रस्त देश इस गठबंधन का हिस्सा बनने का हकदार है। एर्दोआन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के साथ एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बयान दिया। जेलेंस्की यूक्रेन को इस सैन्य गठबंधन का हिस्सा बनाने के लिए समर्थन जुटाने के लिए यूरोपीय देशों की यात्रा कर रहे हैं। नाटो नेता अगले हफ्ते लिथुआनिया के वीनियस में बैठक करेंगे, जिसमें उनके यूक्रेन को इस गठबंधन में शामिल करने के प्रति समर्थन जताने की संभावना है।

स्वीडन को नाटो में शामिल करने के खिलाफ है तुर्किये
एर्दोआन ने कहा, ‘इसमें कोई संदेह नहीं है कि यूक्रेन नाटो की सदस्यता का हकदार है।’ बता दें कि तुर्किये ने यूक्रेन की नाटो सदस्यता के लिए समर्थन ऐसे समय में जताया है, जब वह स्वीडन को इस सैन्य गठबंधन में शामिल करने की अंतिम मंजूरी देने से कतरा रहा है। उसका कहना है कि स्वीडन कुर्दिश आतंकवादियों और अन्य समूहों के खिलाफ प्रभावी रूप से कार्रवाई नहीं कर रहा है, जिन्हें अंकारा अपनी सुरक्षा के लिए खतरा मानता है। स्वीडन और फिनलैंड ने पिछले साल यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद दशकों पुरानी अपनी तटस्थता की नीति छोड़कर नाटो में शामिल होने के लिए अप्लाई किया है।

‘रूस ऐसे बर्ताव करता है मानो पूरा काला सागर उसका है’
तुर्किये की संसद ने फिनलैंड की सदस्यता को मंजूरी दे दी है। एर्दोआन ने यह भी कहा कि वह तुर्किये और संयुक्त राष्ट्र की मध्यस्थता वाले अनाज सौदे की अवधि बढ़ाने पर काम कर रहे हैं, जिसके तहत काला सागर के जरिये यूक्रेन से 3 करोड़ टन से अधिक अनाज का निर्यात किया जा रहा है। इस सौदे की अवधि 17 जुलाई को समाप्त हो रही है। रूस ने अपने अनाज और उर्वरकों के निर्यात में बाधाओं का हवाला देते हुए इस सौदे की अवधि बढ़ाने से इनकार कर दिया है। जेलेंस्की ने रूस पर जहाजों की आवाजाही बाधित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, ‘रूस इस तरह से बर्ताव करता है कि मानो पूरा काला सागर उसका है और वह उसका मालिक है।’

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button