थाने में लड़की की नग्न तस्वीरें खींचने वाला आरोपी पुलिस गिरफ्तार, विभाग से बर्खास्त; कार्रवाई जारी

गुवाहाटी
असम के पुलिस स्टेशन में लड़की की नग्न तस्वीरें खींचने वाला एक पुलिस अधिकारी कई दिनों से फरार चल रहा था, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। एक अन्य पुलिस अधिकारी द्वारा इस बात की जानकारी दी गई है। फिलहाल, आरोपी को पुलिस विभाग से बर्खास्त कर दिया गया है।

पुलिस स्टेशन पर मौजूद लड़की के साथ अश्लील हरकत
आरोपी अधिकारी की पहचान बिमान रॉय के रूप में की गई है। आरोपी ने एक युवा लड़की की अश्लील तस्वीरें ली थीं। पीड़िता नलबाड़ी के घोगरापार पुलिस स्टेशन में हिरासत में लिया गया था। यह घटना 26 जून को सामने आई। रॉय कथित तौर पर गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर बेहोश पाए गए थे और इसके बाद उन्हें गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) ले जाया गया।

रेलवे स्टेशन के पास बेहोशी के अवस्था में मिला आरोपी
जीएमसीएच के अधीक्षक अभिजीत सरमा ने कहा, "एक अज्ञात व्यक्ति को जीएमसीएच ले जाया गया। मरीज का ग्लासगो कोमा स्केल (जीसीएस) कम था।" सरमा ने आगे कहा, "चिकित्सकों द्वारा उनका इलाज किया जा रहा था। आरोपी को फूड पॉइजनिंग हो गई है। उसका जीसीएस अभी भी कम है। अभी उनके परिवार का एक सदस्य उनके साथ है।"

26 जून को लड़की ने दर्ज कराई शिकायत
यह घटना 26 जून को पहली बार सामने आई, जब एक नाबालिग लड़की ने घोगरापार पुलिस स्टेशन के तत्कालीन प्रभारी बिमान रॉय के बारे में पुलिस से शिकायत की। लड़की ने आरोप लगाया कि अधिकारी ने उसकी अश्लील तस्वीरें लीं और जेल के भीतर अन्य अधिकारियों के सामने उसे अपमानित किया।

लड़की को धमका कर उतरवाए कपड़े
दरअसल, 21 जून को पीड़ित लड़की कथित तौर पर अपने प्रेमी के साथ भाग गई थी, लेकिन उन्हें पुलिस ने पकड़ लिया और घोगरापार थाने ले जाया गया। उस शाम उन दोनों को जेल में रखा गया। लड़की ने अपनी शिकायत में कहा, "एसआई ने मुझे अपने कपड़े उतारने के लिए मजबूर किया, लेकिन, मैंने इससे इनकार कर दिया। फिर उसने मुझे धमकी दी और इसलिए मैं डर गई और अपने कपड़े उतार दिए। एसआई ने मेरी नग्न तस्वीर खींची और परेशान करने की कोशिश की। सुबह मैंने एक महिला पुलिस अधिकारी को घटना की जानकारी दी थी, लेकिन उन्होंने मुझे चुप रहने के लिए कहा।''

आरोपी पुलिस अधिकारी हुआ बर्खास्त
शिकायत के बाद असम के डीजीपी जी.पी. सिंह ने आरोपी रॉय के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी और आरोपी अधिकारी को सेवा से बर्खास्त कर दिया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "तत्काल मामला दुर्लभ होने के और असम के पुलिस महानिदेशक और पुलिस बल के प्रमुख के रूप में, मौजूदा कानून और नियमों के अनुसार, मैंने असम पुलिस से बिमान रॉयको बर्खास्त करने का फैसला किया है।"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button