डाइवर्सन बहने से यात्री बसें व अन्य सैकड़ो वाहन फंसे, 2 मरीजों ने तोड़ा दम

दंतेवाड़ा

बैलाडीला-दंतेवाड़ा मार्ग पर दंतेवाड़ा से 9 किमी दूर सातधार कुम्हाररास के बीच निमार्णाधीन पुल के लिए बनाये गये डाइवर्सन बीती रात 8:30 बजे बहने से यातायात अवरुद्ध हो गया। ठेकेदार ने डाइवर्सन तो बनाया था, लेकिन पानी निकासी के लिए पाइप नहीं लगाया, जिसके चलते पानी के बहाव से डाइवर्सन की मिट्टी बह गई। सड़क बंद होने से बैलाडीला से रायपुर की तरफ जाने वाली यात्री बसें और अन्य वाहन यहां सुबह तक फंसे हुए थे। हालांकि सुबह से ही प्रशासन की टीम मार्ग को बहाल करने में जुटी हुई है।

कुआकोंडा अस्पताल से 2 मरीजों को अलग-अलग एंबुलेंस 108 के माध्यम से जिला अस्पताल रेफर किया गया था। लेकिन मार्ग बाधित होने की वजह से 108 एंबुलेंस जिला अस्पताल नहीं पहुंच पाई। एंबुलेंस को मजबूरन कुआकोंडा अस्पताल लौटना पड़ा, इस मार्ग के अवरुद्ध होने से समय में बेहतर उपचार नही मिलने की वजह 2 मरीजों ने दम तोड़ दिया। सड़क बंद होने जाने से बैलाडीला से रायपुर की तरफ जाने वाली यात्री बसें व अन्य वाहन फंसे हुए हैं। दुर्ग, रायपुर से दंतेवाड़ा के किरंदुल तक चलने वाली यात्री बसें फंसी हुईं हैं। साथ ही बैलाडीला से आयरन ओर लेकर रायपुर जा रही ट्रकों की भी लाइन लगी हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार समेली निवासी मुड़े को उल्टी दस्त की शिकायत पर कुआकोंडा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था। रात करीब 12 बजे के बाद उसकी तबियत अचानक बिगड?ी शुरू हो गई, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल रिफर किया गया। वहीं दूसरे  मामले में गड़मिरी निवासी शिक्षक अमेर सिंह ताती सड़क हादसे में घायल हुए जिसे प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रिफर किया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बीआर पुजारी ने बताया कि दोनों मामले में डायवर्सन पुलिया क्षतिग्रस्त हो जाने के कारण दोनों मरीजों को जिला अस्पताल नहीं लाया जा सका, जिससे दोनों की मौत हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button