चोटिल केन विलियमसन टीम मेंटर के तौर पर विश्व कप में ले सकते हैं हिस्सा

रावलपिंडी
 न्यूजीलैंड के सफेद गेंद के कप्तान केन विलियमसन के इस साल के अंत में भारत में होने वाले एकदिवसीय विश्व कप में खेलने की संभावना नहीं है, लेकिन वह टीम मेंटर के रूप में इस टूर्नामेंट के लिए भारत की यात्रा कर सकते हैं।

मुख्य कोच गैरी स्टीड ने कहा कि वह अनुभवी बल्लेबाज और सीमित ओवरों के कप्तान का मेंटर जैसी भूमिका में इस्तेमाल करना चाहेंगे। विलियमसन अपने दाहिने घुटने के एंटीरियर क्रूसिएट लिगामेंट की सफल सर्जरी के बाद पुनर्वसन में हैं। विलियमसन को पिछले महीने इंडियन प्रीमियर लीग में गुजरात टाइटन्स के लिए अपने पहले मैच में क्षेत्ररक्षण करते समय चोट लगी थी।

बाउंड्री पर एक छक्के को रोकने का प्रयास करते हुए, विलियमसन ने हवा में छलांग लगाई और नीचे गिरते ही उनके घुटने में चोट लग गई। चोट इतनी गंभीर थी कि उन्हें मैदान से बाहर ले जाना पड़ा।

स्टीड ने पाकिस्तान के खिलाफ न्यूजीलैंड की पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला से पहले संवाददाताओं से कहा, यह अभी भी जानना बहुत जल्दी है। उसका ऑपरेशन हुआ है और आज तक, जो हम जानते हैं, वह सफल रहा है। इसलिए वह अपने पुनर्वसन कार्यक्रम के बहुत ही प्रारंभिक चरण में है।

अक्टूबर में शुरू होने वाले 50 ओवर के विश्व कप से विलियमसन बाहर हो गए हैं और उनको पूरी तरह से ठीक होने में कम से कम नौ महीने लगेंगे। हालाँकि, स्टीड अभी भी आशावादी है।

स्टीड ने कहा, फिलहाल संभावना नहीं है कि केन उपलब्ध होंगे, लेकिन हम निश्चित रूप से उनके अनुभव का फायदा उठाना चाहेंगे।

न्यूजीलैंड पिछले दो एकदिनी विश्वकप का उपविजेता रहा है। विलियमसन की कप्तानी में, न्यूजीलैंड को 2019 विश्व कप के फाइनल में एक बेहद ही रौमांचक मुकाबले में इंग्लैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button