भारतीय महिला टीम को बांग्लादेश के खिलाफ नए-नए चेहरों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद

मीरपुर
भारतीय महिला क्रिकेट टीम आज रविवार से यहां बांग्लादेश के खिलाफ शुरु होने वाली तीन मैचों की टी20 श्रृंखला में नये चेहरों से मौकों का फायदा उठाने की उम्मीद करेगी और साथ ही चाहेगी कि 'फिनिशर' भी अपने खेल में निखार करें। हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली टीम का यह चार महीनों में पहला अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट है। इस टी20 श्रृंखला के बाद 16 जुलाई से तीन वनडे मैचों की सीरीज खेली जायेगी।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय महिला टीम अंतिम बार मैदान पर दक्षिण अफ्रीका में हुए टी20 विश्व कप में दिखी थी जिसमें उसे नॉकआउट चरण में आस्ट्रेलिया से करीबी हार मिली थी। एक तरफ जहां पुरुष क्रिकेटर व्यस्त कार्यक्रम की वजह से लगातार दौरों पर रहते हैं, वहीं भारतीय महिला टीम की सदस्यों को अपने खेल पर सुधार करने के लिये काफी समय मिला।

हालांकि भारतीय खिलाड़ियों के लिए अंतिम प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट मार्च में आयोजित शुरुआती महिला प्रीमियर लीग थी। भारतीय महिला टीम हालांकि पूरी सुविधाओं के बावजूद अपने खेल को अगले स्तर तक ले जाने में नाकाम रही है। टीम को कई पहलुओं में सुधार करना होगा जिसमें फिटनेस, गेंदबाजी और ‘फिनिशर’ (सूत्रधार) की कमी शामिल है। ये सब चीजें खेल के छोटे प्रारूप के लिये निहायती जरूरी हैं।

पिछले 12 महीनों में टीम के लिए शानदार प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ी तेज गेंदबाज रेणुका ठाकुर और विकेटकीपर रिचा घोष रही हैं जो क्रमश: चोट और फिटनेस मुददों के कारण इस टीम का हिस्सा नहीं हैं। इनकी अनुपस्थिति से नये चेहरों को प्रभावित करने का मौका मिलेगा। रिचा की गैर मौजूदगी से अनुभवी दीप्ति शर्मा से ‘फिनिशर’ की भूमिका निभाने की उम्मीद होगी। वहीं पूजा वस्त्राकर और अमनजोत को भी पारी के अंत में तेजी से रन जुटाकर योगदान करना होगा।

यास्तिका भाटिया और ‘अनकैप्ड’ (जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मैच नहीं खेले हों) उमा छेत्री टीम में दो विकेटकीपिंग विकल्प हैं। बांग्लादेश की टीम से हालांकि भारतीय खिलाड़ियों को ज्यादा परेशानी नहीं होनी चाहिए लेकिन सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा पर दबाव होगा जो 2019 में अंतरराष्ट्रीय पदार्पण के बाद से ही शार्ट गेंद के खिलाफ जूझती दिखी हैं। बायें हाथ की स्पिनर राधा यादव और राजेश्वरी गायकवाड़ की अनुपस्थिति से 20 साल की अनुषा बारेड्डी और राशि कनौजिया को पदार्पण का मौका मिल सकता है।

मोनिका पटेल और मेघना सिंह के लिए यह श्रृंखला वापसी के लिए अहम होगी क्योंकि ये दोनों पिछले ज्यादातर सत्र में बाहर रहने के बाद टीम में अपना स्थान पक्का करना चाहेंगी। भारत की अंडर-19 टीम को विश्व कप खिताब दिलाने में मार्गदर्शन करने वाली नूशीन अल खादीर को अंतरिम कोच बनाया गया है। खिलाड़ियों ने बेंगलुरु की राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में ट्रेनिंग की जिसके बाद वे बांग्लादेश रवाना हुईं। सभी मैच शेरे बांग्ला नेशनल स्टेडियम में खेले जायेंगे।

टीमें इस प्रकार हैं :
भारत : हरमनप्रीत कौर (कप्तान)
, स्मृति मंधाना, दीप्ति शर्मा, शेफाली वर्मा, जेमिमा रोड्रिग्स, यास्तिका भाटिया (विकेटकीपर), हरलीन देओल, देविका वैद्य, उमा छेत्री (विकेटकीपर), अमनजोत कौर, एस मेघना, पूजा वस्त्राकर, मेघना सिंह, अंजलि सरवनी, मोनिका पटेल, राशि कनौजिया, अनुषा बारेड्डी, मीनू मणि।

बांग्लादेश: निगार सुल्ताना (कप्तान, विकेटकीपर), नाहिदा अख्तर, दिलारा अख्तर, शाथी रानी, शमीमा सुल्ताना, शोभना मोस्तरी, मुर्शिदा खातून, शोर्ना अख्तर, रितु मोनी, दिशा बिस्वास, मारुफा अख्तर, संजीदा अख्तर मेघला, राबिया खान, सुल्ताना खातून, सलमा खातून, फाहिमा खातून। मैच भारतीय समयानुसार दोपहर डेढ़ बजे शुरु होगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button