भारत ने चीन-जापान-US को पछाड़ नया वर्ल्ड रिकॉर्ड किया कायम, 100 घंटे में 100 किमी सड़क तैयार

 नईदिल्ली

दुनिया को पीछे छोड़ भारत ने एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम कर दिया है. भारत में 100 घंटे में 100 किलोमीटर की सड़क बनाकर तैयार कर दी गई है. सड़क निर्माण में भारत ने चीन, अमेरिका और जापान को भी पीछे छोड़ दिया. गाजियाबाद-अलीगढ़ एक्सप्रेस वे के बीच NH 34 पर 15 मई को सुबह 10 बजे से इस सड़क को बनाने का काम शुरू हुआ था, जो 19 मई को 2 बजे 100 घंटे में 112 किलोमीटर बनकर तैयार हो गई है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी ट्वीट करके टीम को बधाई दी.

'8 घंटे की शिफ्ट, एक शिफ्ट में 100 से ज्यादा इंजीनियर'

इस सड़क को 15 मई की तारीख सुबह 10 बजे से बनाना शुरू किया गया था. टारगेट था कि 100 घंटे में 100 किमी की सड़क तैयार करनी है. सड़क को बनाने के लिए 8-8 घंटे की शिफ्ट में मजदूर और इंजीनियर्स ने काम किया. इंजीनियर्स की टीम को लीड करने वाले अर्पण घोष बताते हैं कि एक शिफ्ट में कम से कम 100 इंजीनियर्स और 250 मजदूर काम करते थे. हर मिनट में 3 मीटर से ज़्यादा की रोड तैयार की गई. बड़ी बात ये कि इस भीषण गर्मी में मजदूर और इंजीनियर्स के लिए बहुत सारे एक्सट्रा इंतजाम करने पड़े. एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई थी. सबसे बड़ा चैलेंज ये भी था कि सड़क की दूसरा तरफ का ट्रैफिक लगातार चलता रहे.

'इंवायरमेंट फ्रेंडली तकनीक का इस्तेमाल'

एनएचएआई के रिजनल ऑफिसर संजीव कुमार शर्मा बताते हैं कि इस सड़क को बनाने में इंवायरमेंट का भी पूरा ख्याल रखा गया है. सड़क को रिसाइकल्ड मटेरियल से तैयार किया गया है. सड़क को बनाने के लिए पुराने मटेरियल का ही इस्तेमाल किया गया है. सड़क को बनाने में 51849 मैट्रिक टन बिटुमन कंक्रीट, 2700 मैट्रिक टन बिटुमन लगा है और 6 हॉट मिक्स प्लांट में इस मटैरियल को तैयार किया गया है.

इस सड़क के निर्माण से भारत को एक मॉडल भी मिला है. इस मॉडल के जरिए आने वाले वक्त में हाइवे और एक्सप्रेसवे और जल्दी तैयार हो जाएंगे.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button