छत्‍तीसगढ़ में अगले दो दिनों तक अति भारी बारिश का अलर्ट, राजधानी में दिखा असर

रायपुर

 छत्‍तीसगढ़ में मौसम का मिजाज बदलने वाला है और लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिलेगी। मौसम विभाग का कहना है कि मानसूनी तंत्र के प्रभाव से आने वाले दिनों में प्रदेश भर में बारिश के आसार है। साथ ही अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट आएगी। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मानसूनी तंत्र के प्रभाव से प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा भी हो सकती है।

दिनभर की उमस से शाम को हल्की बारिश ने दिलाई राहत

बीते कुछ दिनों से बारिश थमने से उमस में बढ़ोतरी होने लगी है। मंगलवार सुबह से दोपहर तक रायपुर में चिपचिपी गर्मी व उमस से लोग परेशान रहे। रायपुर का अधिकतम तापमान 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस ज्यादा है। दोपहर की उमस से लोगों को शाम को राहत मिली और ठंडी हवाओं के साथ ही हल्की बारिश भी हुई है। ठंडी हवाओं व हल्की बारिश के चलते मौसम का मिजाज भी खुशनुमा हो गया और लोगों को उमस से राहत मिली।

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अब आने वाले दिनों में लोगों को उमस से राहत मिलने वाली है। मानसून प्रदेश भर में सक्रिय है और मानसूनी तंत्र के प्रभाव से बारिश होने लगेगी। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण पश्चिम बंगाल की खाड़ी और उससे लगे उत्तर आंध्र प्रदेश के ऊपर से 1.5 किमी से 7.6 किमी ऊंचाई तक है। इसके प्रभाव से ही बुधवार को प्रदेश भर में हल्की से मध्यम वर्षा होगी।

इन क्षेत्रों में हुई बारिश

बीजापुर-ओड़गी-भैरमगढ़ में 4 सेमी, लोहांडीगुड़ा-छिंदगड़-बैकुंठपुर में 3 सेमी, मरवाही-तोकपाल-पौड़ी 2 सेमी, गीदम-कटेकल्याण 1 सेमी वर्षा हुई। इनके साथ ही प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी हल्की बारिश हुई। इस वर्ष मानसून विलंब से आने के कारण जून में सामान्य से कम वर्षा हुई है और जुलाई में भरपुर बारिश की संभावना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button