कंजक्टिवाइटिस और ड्राई आई की समस्या में इन तरीकों से पाए निजाद

सावन के पहले दिन आज आपको बचपन क्यों याद आ रहा है। सावन तो बचपन की याद ताज़ा कर ही देता है।  मॉनसून में वो बारिश में भीगना, पानी में नाव चलाना, नेचर के करीब अलग ही सुकून था क्योंकि इस महीने में गर्मी से राहत तो मिलती ही है, पूरी कायनात की खूबसूरती पर भी एक अलग ही निखार आ जाता है। वो इसलिए क्योंकि बारिश की बूंदो से पेड़ पौधे धुल जाते हैं, चारों तरफ हरियाली ही हरियाली नज़र आती है जो आंखो को राहत देती है। इसकी ज़रूरत भी है क्योंकि बढते स्क्रीन टाइम ने आंखों पर प्रेशर बढ़ा दिया है और छोटे छोटे बच्चों को मोटा चश्मा चढ़ा दिया है।

देखिए बरसात से होने वाली हरियाली तो आंखों को अच्छी लगती ही है लेकिन ये मौसम आंखों के लिए ही उतना ही खतरनाक भी होता है। बारिश के दिनों में कंजक्टिवाइटिस, फंगल, वायरल, बैक्टीरियल इंफेक्शन और एलर्जी आंखों की परेशानी बढ़ा देते है। ऐसे में आंखों में रेडनेस, ड्राईनेस और दर्द की परेशानी झेलनी पड़ती है जिससे कई बार सिरदर्द-माइग्रेन भी ट्रिगर होता है इसलिए इस मौसम में आंखों का बेहद ख्याल रखना चाहिए। तो हर मौसम में ज़रूरी है क्योंकि मॉडर्न लाइफस्टाइल में तमाम ऐसी चीज़ें है जो आंखों के लिए खतरनाक है जैसे ऑनलाइन वर्क, रेडिएशन और पॉल्यूशन।

ग्लूकोमा-कैटरेक्ट और मायोपिया के बढते मामले बड़ों के साथ साथ बच्चों की भी नज़र कमज़ोर कर रहे हैं। इसी खतरे को तो कम करना है और वो होगा योग करने से और अगर हरियाली में योग करने को मिल जाए तो कहना की क्या।

आंखों की बीमारी की वजह
एलर्जी
प्रदूषण
कम्प्यूटर पर काम
जेनेटिक
चोट लगना
हाई बीपी
डायबिटीज़

आंखों की रोशनी बढ़ाएं
सुबह-शाम 30 मिनट प्राणायाम करें
अनुलोम-विलोम करें
7 बार भ्रामरी करें

आंखों की रोशनी बढ़ाएं
'महात्रिफला घृत'  पीएं
1 चम्मच दूध के साथ लें
दिन में दो बार खाने के बाद लें

आंखों की रोशनी बढ़ाएं
एलोवेरा-आंवला का जूस पीएं
आंवला से आंखें तेज़ होती हैं
नजर होगी शार्प
गुलाब जल में त्रिफला का पानी मिलाएं
मुंह में नॉर्मल पानी भरें
त्रिफला-गुलाब जल से आंखें धोएं

नजर होगी शार्प,क्या खाएं?
किशमिश और अंजीर खाएं
7-8 बादाम पानी में भिगोकर खाएं

चश्मा उतरेगा, क्या खाएं?
बादाम, सौंफ और मिश्री लें
पीस कर पाउडर बना लें
रात को गर्म दूध के साथ लें

आंखों को दें आराम
आंखों में गुलाब जल डालें
साफ पानी से आंखें धोएं
आलू के टुकड़े आंखों पर रखें
खीरा काटकर पलकों पर रखें

आंखें देंगी साथ, घरेलू इलाज
1 चम्मच सफेद प्याज़ का रस
1 चम्मच अदरक नींबू का रस
3 चम्मच शहद
3 चम्मच गुलाब जल
सभी को आंवले के रस में मिलाएं
दो-दो बूंद सुबह शाम आंखों में डालें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button