सीएम ने कहा – दिव्यांग बच्चों से मिलती है कठीन परिस्थितियों में भी जीने की प्रेरणा

रायपुर

अर्पण कल्याण समिति द्वारा सेक्टर एक, बजाज कालोनी, न्यू राजेंद्र नगर में संचालित अर्पण दिव्यांग पब्लिक स्कूल के मूक-बधिर बच्चों को मुख्यमंत्री  श्री भूपेश बघेल ने शाला प्रवेश उत्सव पर स्कूल बैग व पाठ्य सामग्रियों का वितरण किया। नए शिक्षा सत्र पर प्रदेश का यह पहला शाला प्रवेशोत्सव था।

कटोरा तालाब में बुधवार को कांग्रेस नेता व पूर्व विधायक स्वर्गीय लक्ष्मण सतपथी की प्रतिमा अनावरण के बाद मुख्यमंत्री बघेल ने जैसे ही मंच के बाजू में बैठे मूक-बधिर बच्चों को  देखा वैसे ही वे महापौर एजाज ढेबर व सभापति तथा पूर्व महापौर प्रमोद दुबे के साथ  उनके पास पहुंचे तथा उन्हें लाड़ करते हुए सबसे हाथ मिलाया। मुख्यमंत्री ने जांजगीर-चांपा में बोरवेल से छ: दिनों फंसे रहने के बाद सुरक्षित निकाले गए राहुल साहू से इशारों में बात कर उसका हाल चाल जाना। मुख्यमंत्री को अपने करीब पाकर दिव्यांग बच्चे अति-उत्साहित थे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बच्चों को परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर बधाई देते हुए कहा कि इन बच्चों से हमें कठीन परिस्थितियों में भी जीने की प्रेरणा मिलती है। ये भले ही सुन व बोल नहीं सकते किंतु इनके तेज दिमाग से देश व प्रदेश के विकास को नई दिशा मिलेगी। इससे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चों को स्कूल बैग व पाठ्य सामग्रियों का वितरण किया तथा सामूहिक तस्वीर खिंचवाई। कार्यक्रम में मौजूद महापौर एजाज ढेबर ने इन बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए इन्हें देवदूत बताया। नगर निगम के अध्यक्ष व पूर्व महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि इन बच्चों की सेवा से आत्मा को आनंद की असीम अनुभूति होती है।

दिव्यांग बच्चों के साथ कुछ समय व्यतीत करने से तनाव तो दूर होता ही है, शांति भी मिलती है। इन बच्चों की प्रतिभा को इस स्कूल में तराशा जा रहा है। उन्हें विभिन्न कलाओं का प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाया जा रहा है। समिति के अध्यक्ष प्रकाश शर्मा  ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, एजाज ढेबर व प्रमोद दुबे का आभार जताया। इस अवसर पर समिति के उपाध्यक्ष धनंजय त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष विरेन्द्र शर्मा, डायरेक्टर डॉ. राकेश पाण्डेय, मृत्युंजय शुक्ला सहित प्राचार्य कमलेश शुक्ला, विशाल, सीमा छाबड़ा, दिनेश शुक्ला, शाहना आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button