2023 का चुनाव बीजेपी के विकास को आधार बनाकर लड़ा जाएगा

भोपाल

भाजपा ने तय किया है कि वर्ष 2023 का चुनाव बीजेपी के विकास और मिस्टर बंटाधार के दुरावस्था काल को आधार बनाकर लड़ा जाएगा। ऐसा पार्टी इसलिए चाहती है ताकि प्रदेश के नव मतदाता जिन्होंने 2003 के पहले का मध्यप्रदेश नहीं देखा है वह जान सकें कि दिग्विजय सिंह की सरकार के कार्यकाल में मध्यप्रदेश की स्थिति कैसी थी? बीजेपी के कार्यकर्ता घर-घर जाकर यह भी बताएंगे कि कमलनाथ की 15 माह की सरकार में भी किस तरह से कमीशन बाजी और करप्शन हावी था। बीजेपी के सभी जिला अध्यक्षों और जिला प्रभारियों समेत अभियान टोली प्रभारियों को इस संकल्प के साथ जिलों में वापस भेजा गया है कि वह स्वस्थ टीम स्पिरिट के साथ काम करेंगे और जो कार्यकर्ता उनसे नाराज हैं उनसे मिलकर सहयोग मांगेंगे। उनसे पूरी ताकत के साथ चुनाव में जुड़ने के लिए कहेंगे।

शक्ति केंद्र को करेंगे और सशक्त
सभी कार्यकर्ता केंद्र और प्रदेश की सरकार की उपलब्धियों के बारे में भी लोगों को बताएंगे यह काम सभी 64000 बूथों पर किया जाएगा। इस बैठक में मंडलों की तर्ज पर सख्त केंद्रों को भी मजबूत बनाने के लिए कहा गया और आने वाले समय में पार्टी द्वारा शक्ति केंद्रों पर और अधिक ताकत से कार्यक्रम आयोजित करने का काम किया जाएगा।

वीडी ने दिया नारा ‘अबकी बार 200 पार- बंटाधार से आर-पार’
इस बैठक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने सभी कार्यकर्ताओं से कहा कि अबकी बार 200 पार और मिस्टर बंटाधार से आर पार का भाव प्रदेश की जनता को बताना होगा। सभी कार्यकर्ता गांव और शहर में जाकर यह बताएं कि मिस्टर बंटाधार ने किस तरह से मध्य प्रदेश को पिछड़े प्रदेशों में ला दिया था और भाजपा की सरकार ने कैसे स्वर्णिम मध्यप्रदेश की आधारशिला रखी है। नव मतदाता को यह बताना जरूरी है क्योंकि उन्होंने लालटेन और सड़कों पर गड्ढों का दौर नहीं देखा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button