सानिया मिर्जा ने जीता फेड कप हार्ट अवॉर्ड, जीती रकम मुख्यमंत्री राहत कोष में की दान

नई दिल्ली। भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने फेड कप हार्ट अवॉर्ड जीतकर नया इतिहास रच दिया है। वो यह अवॉर्ड जीतने वाली भारत की पहली खिलाड़ी हैं। 33 वर्षीय सानिया ने इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर गर्व और खुशी जाहिर की है और 2000 डॉलर (करीब 1.5 लाख रुपये) की पुरस्कार राशि तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का फैसला किया है। भारतीय टेनिस के इतिहास के हिस्से में यह अवॉर्ड पहली बार आया है। सानिया को फेड कप एशिया/ओसनिया ग्रुप 1 हार्ट अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट किया गया था और इस अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट होने वाली वो पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी थीं। पूर्व डबल्स नंबर-1 और छह बार की ग्रैंड स्लेम विजेता सानिया 2016 के बाद से पहली बार इस साल फेड कप टीम में शामिल हुई थीं। उन्होंने अंकिता रैना से साथ मिलकर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए भारत को पहली बार फेड कप के प्लेऑफ में पहुंचाया था। इस साल फेड कप के शीर्ष प्रदर्शन को देखते हुए फेड कप हार्ट अवॉर्ड ग्रुप 1 के लिए छह खिलाडिय़ों को नामित किया गया था। हार्ट अवॉर्ड की विजेता की घोषणा ऑनलाइन वोटिंग के आधार पर की गई। फैन्स ने 1 से 8 मई के बीच ऑनलाइन वोटिंग कर इसके विजेता का फैसला किया।
इस साल तीन क्षेत्रीय ग्रुप 1 नामितों के लिए किए गए 16985 वोटों में से सानिया को 10 हजार से अधिक वोट मिले। सानिया का वोट प्रतिशत 60 फीसदी से अधिक रहा जिससे फेड कप प्रतियोगिता में उनकी वैश्विक लोकप्रियता का पता चलता है। हैदराबाद की 33 वषीर्य सानिया ने कहा, वर्ष 2003 में भारत का पहली बार प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए सबसे बड़े सम्मान की बात थी और इस अवॉर्ड को जीतने वाली पहली भारतीय बनकर मैं गौरवान्वित महसूस कर रही हूं। मेरा 18 सालों का लंबा करियर है और मैं भारतीय टेनिस टीम की सफलता में योगदान देकर गर्व महसूस करती हूं। फेड कप एशिया/ओसनिया टूर्नामेंट के नतीजे मेरे करियर की बड़ी उपलब्धियों में से एक है। यह ऐसा पल है जिसके लिए हर एथलीट खेलता है और मैं फेड कप हार्ट अवॉर्ड जीतने पर बेहद खुश हूं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button