शिवराज का नाथ पर तंज भैया अपना घर संभालों

भोपाल। विशेष प्रतिनिधि। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौान आज झाबुआ प्रवास पर रहे। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कमलनाथ पर तंज कसा। बोले कि भैया अपना घर संभालों, कौन आ रहा है, कौन जा रहा है, कौन मना कर रहा है? कौन नहीं लड़ रहा है? शिवराज ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है और यहां निर्णय वंशवाद और परिवारवाद से सर्वथा दूर रह कर ही किए जाते हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया गया था कि अरूण यादव ने खंडवा से लोकसभा चुनाव लडऩे से मना कर दिया है। मुख्यमंत्री बोले कि यह कांग्रेस का मामला है सवाल उन से पूछना चाहिए। इसके बाद उन्होंने कमलनाथ पर तंज किया कि मैं वहीं तो कह रहा था लेकिन वे नाराज हो गए। कांग्रेस जाने कि वे क्यों मना कर रहे हैं। कमलनाथ को अपना घर संभालना चाहिए। कहा तो गुस्सा हो रहे थे। हमने कहा था अपना घर देखो भैया कौन जा रहा है, कौन आ रहा है, कौन मना कर रहा है, क्यों नहीं लड़ रहा है? यह तो देखो। लेकिन वे तो गुस्सा हो जाते हैं अपना घर संभाल नहीं पाते।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कह कि हमारे यहां वंशवाद और परिवारवाद से दूर रहकर निर्णय लिए जाते हैं। पार्टी विचार करती है, पिफर फैसला करती है। एक हमारी पार्टी है जहां न तो अगल से नाम जाते हैं न कोई गुटबाजी है। पार्टी कार्यकर्ताओं के बारे में विचार करती है। उन्होंने साफ किया कि नामांकन फार्म तो नवरात्रि में ही भरे जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी पूरी तरह से तैयार है और जनता के बीच काम करती है। महिलाओं, किसानों और नौजवानों के लिए काम करती है। केन्द्र सरकार ने आम इंसान, गरीब, किसान, माताओं व बहनों के लिए और नौजवानों के लिए योजनाएं बनाई हैं। प्रदेश की सरकार ने भी जनकल्याणकारी कार्य किए हैं। कोरोनाकाल में जब अर्थव्यवस्था घ्वस्त हो गई थी तब भी काम की गति कम नहीं होने दी।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि विकास और जनकल्याण इन दोनों विषयों को लेकर हम जनता के बीच जाएंगे यही हमारी तैयारी है। शिवराज सिंह चौहान आज झाबुआ में आदिवासी सम्मेलन को संबांधित करेंगे। यहां यह उल्लेख करने की बात है कि जोबट के लिए सुलोचना रावत को पार्टी में शामिल करने से स्थानीय कार्यकर्ताओं ने आक्रोश है और मुख्यमंत्री का प्रवास इसे भी साधने के काम आएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button