शर्मिन बोलीं दोगुनी मेहनत करते हैं स्टार किड्स

बॉलीवुड इंडस्ट्री में नेपोटिज्म को लेकर चर्चा चलती ही रहती है। दरअसल यह मुद्दा हमेशा से बहस के केंद्र में रहा है कि फिल्मी दुनिया के बच्चे आसानी से अपनी जगह बना लेते हैं, क्योंकि उन्हें सपोर्ट मिलता है, जबकि बाहर से आने वाले को बहुत मेहनत करनी पड़ती है क्योंकि उसका कोई माई-बाप इंडस्ट्री में नहीं होता है। इस तरह से नोपोटिज्म पर फिल्म डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की भतीजी शर्मिन सहगल ने अपनी राय खुलकर रखी है। वैसे आपको बतला दें कि शर्मिन फिल्म मलाल से बॉलीवुड में डेब्यू कर रही हैं। फिल्म का ट्रेलर पिछले दिनों जारी किया जा चुका है। फिल्म आ रही है तो लोग उनसे हर मुद्दे पर खुलकर बात करना  चाहते हैं, ऐसे में शर्मिन ने नेपोटिज्म पर अपनी राय रखते हुए कहा कि यकीनन, बॉलीवुड में नेपोटिज्म है लेकिन यह चीज यहीं नहीं बल्कि तमाम क्षेत्रों में मौजूद है। शर्मिन ने बिना झिझक इस बात को माना और कहा कि 'यह सही है कि यदि आप फिल्म इंडस्ट्री के लोगों जानते हैं तो आपको एंट्री आसानी से मिल जाती है, लेकिन तब लोगों को आपसे बहुत ज्यादा उम्मीदें हो जाती हैं। इसलिए, स्टार किड्स को तो ज्यादा मेहनत करनी होती है। काम के प्रति गंभीरता रखनी होती है, अवसर मिला है तो उसे बर्बाद भी नहीं करना चाहिए।' इस तरह शर्मिन यह तो मानती हैं कि स्टार किड्स को फिल्मी दुनिया में जगह आसानी से मिल जाती है, लेकिन इसके साथ ही मेहनत करने और खुद को साबित करने की भी बात वो कहती हैं। वैसे यही बात अनेक फिल्म स्टार पहले भी कह चुके हैं कि जब आपके परिवार का कोई सदस्य पहले से फिल्मी दुनिया में अपना नाम कमा चुका होता है तो आपको बेहतर करने के लिए दोगुनी मेहनत करनी होती है, वर्ना आप एंट्री तो पा जाते हैं, लेकिन कभी सफल नहीं हो पाते। बहरहाल शर्मिन बॉलीवुड अभिनेता जावेद जाफरी के बेटे मीजान जाफरी के साथ फिल्मी दुनिया में कदम रखने जा रही हैं, अब देखना यह होगा कि वो इसमें कितना सफल हो पाती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button