मंदिर में जल चढ़ाकर मौलवियों के निशाने पर मेहबूबा

नई दिल्ली। (विशेष प्रतिनिधि)। पीडीपी नेता मेहबूबा मुफ्ती मंदिर में जल चढ़ाने के मामले मेंं मौलवियों के निशाने पर आ गई हैं। उनके इस कार्य को इस्लाम विरोधी करार दिया है।

खास बातें :-
  • अपने पूर्व विधायक यशपाल शर्मा के बनवाये मंदिर में गईं थी मेहबूबा शर्मा की प्रतिमा पर चढ़ाये फूल।
  • नवग्रह मंदिर में शिव लिंग पर चढ़ाया जल वीडियो हुआ वायरल।
  • मौलवियों ने बताया इस कृत्य को इस्लाम विरोधी बढ़ी मुशिबत
  • मेहबूबा बोली हम धर्मनिरपेक्ष देश में रहते हैं तथा देश की तहजीब गंगा जमुनी है इसलिए इसे इसी रूप में लेना चाहिए।
पीडीपी सुप्रीमों मेहबूबा मुफ्ती  जम्मू कश्मीर के पूंछ की सीमा पर बने नवग्रह मंदिर में पहुंच कर  मंदिर में दर्शन दिये। उन्होंने वहां स्थित शिवलिंग पर जल चढ़ाया। वहां मंदिर में स्थिति पीडीपी के पूर्व विधायक यशपाल शर्मा की प्रतिमा पर फूल चढ़ाये। इसको लेकर उन्होंने भाजपा को भी निशाने पर लिया। वे जिले के दो दिन के दौरे पर आईं थी। वे बीते दिन मंदिर पहुंची और जल चढ़ाया। मंदिर की परिक्रमा की और भगवान के दर्शन किये। यह मंदिर पीडीपी के पूर्व एमएलसी यशपाल शर्मा ने बनवाया था।

भाजपा ने इसे नौटंकी करार देते हुए मुफ्ती की आलोचना की और कहा कि अमरनाथ श्राइन बोर्ड के लिए जमीन आवंटन का विरोध किया था आज मंदिर में पानी चढ़ा रही है। उप राज्यपाल मनोज सिंहा ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के समय आतंकवादियों के परिवार के लोगों को नौकरी दी थी यह हमारे संस्कार नहीं है।

अब यह मामला इस्लामिक धर्मगुरूओं की नजर में भी आ गया है। जिनकी प्रतिक्रिया सामने आई है। मौलवियों का कहना है कि शिवलिंग पर जल चढ़ाना इस्लाम की मान्यताओं के विरूद्ध है। लेकिन इसे मेहबूबा ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि हम धर्मनिरपेक्ष देश के रहते हैं और यहां की तहजीब गंगा जमुनी है। इसलिए कोई कार्यकर्ता यदि जल दे दे तो उसे मना नहीं किया जा सकता है। अब इस मामले के तूल पकडऩे की संभावना देखी जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button