इस साल मानसून समय से पहले देगा दस्तक

नई दिल्ली। इस साल मानसून समय से पहले दस्तक दे सकता है। मानसून और मौसम की जानकारी देने वाली निजी कंपनी स्काईमेट के मुताबिक मानसून केरल तट पर 1 जून के बजाय 28 मई तक पहुंच सकता है। जानकारी के अनुसार अंडमान सागर में मानसून अपने निर्धारित समय से 4-5 दिन पहले ही आ सकता है। वहीं, देश के सरकारी मौसम कार्यकाल आईएमडी ने भी अंडमान सागर में मानसून का ऑनसेट 22 मई तक होने का अनुमान जताया है लेकिन केरल पहुंचने की तारीख को बिना बदलाव के 1 जून ही रखा है। स्काईमेट ने अपने एक बयान में कहा है कि इस साल दक्षिण पश्चिम मानसून अपने सामान्य निर्धारित ऑनसेट डेट 1 जून से 4 दिन पहले ही 28 मई को केरल तट पर दस्तक दे सकता है।
स्काईमेट ने आगे कहा कि इस शनिवार-रविवार को अंडमान सागर के ऊपर मानसून की करंट बढ़ती हुई देखी गई है जो 22 मई की अपनी नॉर्मल तिथि से करीब 4 दिन पहले है। इस बीच भारतीय मौसम विभाग ने भी कहा है कि मानसून के लिए मौसमी स्थितियां काफी अनुकूल नजर आ रही हैं। मौसम ब्यूरो ने भी इस साल के लिए अंडमान सागर पर नॉर्मल ऑनसेट डेट को 20 मई से बदलकर 22 मई कर दिया है। हालांकि इसने केरल में मानसून पहुंचने की तिथि में कोई बदलाव ना करते हुए 1 जून ही रखा है।
बता दें कि मानसून से जुड़ी अपनी पहली घोषणा में आईएमडी ने कहा था कि इस साल देश में दक्षिणी-पश्चिमी मानसून सामान्य रहेगा ये अपने लॉन्ग टर्म एवरेज के 100 प्रतिशत के आसपास रहेगा जो लगभग 88 सेंटीमीटर के आसपास रहेगा। गौरतलब है कि सामान्य तौर पर अंडमान निकोबार में मानसून 20 मई के बाद आता है फिर केरल पहुंचने के लिए 10-12 दिन का समय और लगता है।
अन्य राज्य में कब पहुंचेगा मानसून
आईएमडी की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में मानसून सामान्य तारीखों की तुलना में  3 से 7 दिनों की देरी से आएगा। दिल्ली के लिए मानसून की सामान्य शुरुआत की तारीख 23 जून से 27 जून तक संशोधित की गई है। इसी तरह, मुंबई और कोलकाता के लिए 10 से 11 जून तक और चेन्नई में 1 से 4 जून तक की तारीखों को संशोधित किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button