आईपीएल का खिताब मुंबई को, अंतिम गेंद पर हार गया चेन्नई

हैदराबाद। हैदराबाद के स्टेडियम में हुए फाइनल मैच में  अंतिम गेंद पर रोमांचक जीत हासिल करते हुए मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को 1 रन से पराजित कर दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 149 रन बनाए। जवाब में चेन्नई 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 148 रन ही बना सकी।
चेन्नई की टीम ने लक्ष्य का पीछा करते हुए शानदार शुरुआत की। पहले विकेट के लिए फाफ डू प्लेसी और शेन वॉटसन ने 24 गेंदों में 33 रन बनाए। डू प्लेसिस को कुणाल पंड्या की गेंद पर  डी कॉक ने स्टंप बोल्ड कर दिया। डुप्लेसिस ने तेजी से 26 रन बनाए। इसमें तीन चौके और एक छक्का शामिल था। इसके बाद रन गति धीमी हो गई।  सुरेश रैना 8 रन बनाकर राहुल चहर द्वारा एलबीडब्ल्यू कर दिए गए। उन्होंने 14 गेंद खर्च की। अंबाती रायडू 4 गेंदों में 1 रन ही बना सके। बुमराह ने उन्हें क्विंटन डी कॉक के हाथों कैच करा दिया। रनिंग बिटवीन द विकेट के लिए विख्यात एम एस धोनी को 2 रन के स्कोर पर ईशान किशन ने रन आउट कर दिया। 
एक समय स्थिति ऐसी आ गई थी कि 15 ओवर में 6 से भी कम का एवरेज हो गया। वाटसन ने इसके बाद रन गति तेज की। उन्होंने लसिथ मलिंगा के एक ओवर में 20 रन मारे। बाद में उन्होंने कुणाल पंड्या को भी धुना। इन 2 ओवर्स में बने 40 रन। चेन्नई के लिए मददगार साबित हुए लेकिन अंतिम ओवर में शेन वॉटसन को कुणाल पंड्या ने डायरेक्ट थ्रो पर रन आउट कर दिया। वॉटसन ने 59 गेंदों में 8 चौके और 4 छक्के की सहायता से 80 रन बनाए। उनका आउट होना मैच का टर्निंग प्वाइंट था। मलिंगा ने मैच की अंतिम गेंद पर शार्दुल ठाकुर को एलबीडब्ल्यू कर दिया। चेन्नई अंतिम 2 गेंद में 4 रन नहीं बना सकी।
इससे पहले चेन्नई सुपर किंग के खिलाफ  मुंबई इंडियंस ने आईपीएल के खिताबी मुकाबले में किरोन पोलार्ड (41* रन, 25 गेंद, 3 चौके और 3 छक्के) की साहसिक पारी की बदौलत चेन्नई के सामने जीत के लिए 150 रन का लक्ष्य रखा । टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई ने निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 149 रन बनाए। पोलार्ड के अलावा मुंबई की तरफ से कोई भी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर पाए। वहीं, चेन्नई की तरफ से दीपक चाहर ने सबसे अधिक 3, ताहिर और शार्दुल ने 2-2 विकेट हासिल किए।
पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई को रोहित शर्मा और क्विंटन डिकॉक की सलामी जोड़ी ने धमाकेदार शुरुआत दिलाई। मगर 4।5 ओवर में तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने मुंबई को क्विंटन डिकॉक (29) के रूप में पहला झटका दिया। शार्दुल ने उन्हें विकेट के पीछे धोनी के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। पहले विकेट के लिए रोहित और डिकॉक के बीच 45 रन क साझेदारी हुई। इसके तुरंत बाद यानी 5।2 ओवर में दीपक चाहर ने चेन्नई को बड़ी सफलता दिलाई। चाहर ने कप्तान रोहित शर्मा (15) को धोनी के हाथों कैच आउट कराते हुए मुंबई को दूसरा झटका दिया। 
इसके बाद 11।2 ओवर में इमरान ताहिर ने मुंबई को सूर्यकुमार यादव (15) के रूप में तीसरा झटका दिया। इसके कुछ ही देर बाद 12।3 ओवर में शार्दुर ठाकुर ने क्रुणाल पांड्या (7) को खुद की गेंद पर कैच लेते हुए उन्हें पवेलियन भेजा। 14।4 ओवर में इमरान ताहिर ने इशान किशन (23) के रूप में मुंबई का पांचवां विकेट चटकाया। ताहिर ने उन्हें रैना के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। इस विकेट के साथ ही ताहिर ने दिल्ली ke तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा (25 विकेट) को पीछे छोड़ दिया है। ताहिर ने इशान किशन को आउट कर IPL के 12वें सीजन में अपना 26वां विकेट पूरा किया। इसके साथ ही वह पर्पल कैप होल्डर हो गए हैं।
इसके बाद 19वें ओवर में मुंबई के दो विकेट गिरे। दीपक चाहर ने ओवर की दूसरी गेंद पर हार्दिक पांड्या (16) को एलबीडब्ल्यू आउट किया, जबकि चौथी गेंद पर बल्लेबाजी करने आए युवा खिलाड़ी राहुल चाहर (0) को डु प्लेसिस के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। 
इससे पहले मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने चेन्नई के खिलाफ खिताबी मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। चेन्नई ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है। वही, मुंबई ने अपनी टीम में एक बदलाव करते हुए जयंत यादव की जगह मिचेल मैक्लेनघन को शामिल किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button